Thursday, February 23, 2017

जोगी रा सारा रा रा


सबसे पहले ’जोगी रा सा रा रा’ कब, किसने, किसको,किसलिये, किस तरह बोला होगा यह पता करना पड़ेगा। कस के बोला होगा या बोल के कस लिया होगा यह भी पता नहीं। किस करके बोला या बोल के किस किया इसका वायरल वीडियो भी नहीं दिखा कहीं। पता करना पड़ेगा।
लगता है कभी, किसी ने किसी जोगी को शरारा पहने देख लिया होगा कभी। जटा-जूट धारी ,’स्त्री संग-संसर्ग पलायन कारी जोगी को कम कपड़ों में देख अटपटा लगा होगा उसको। औचक उसके मुंह से निकल गया होगा -जोगी रा सा रा रा।
यह भी हो सकता है कि जैसे राजनीतिक पार्टियों की निगाह विरोधी दल की हर हरकत पर रहती है उसी तरह जोगी जी के दिमाग में शरारा चलता रहता हो। माया से बचने के लिये माया का ध्यान करते रहते हों जोगी मतलब शरारा चिन्तन। जिस तरह जोगी लोग दस-बारह-पंद्रह बच्चे पैदा करने का आह्वान करते रहते हैं उससे भी लगता है इस बारे में कितनी चिन्ता करते हैं वे।
यह भी हो सकता है कि कोई जोगी कहीं शरारत करते पकड़ा गया हो। जैसे अपने पतंजलि पुरुष अक्सर करते दिखते हैं। बस लोगों ने हल्ला मचा दिया होगा -जोगी रा सारा रा रा। होने को हो तो यह भी सकता है कि किसी गांव में कोई गम्भीर टाइप जोगी जी रहते होंगे। गांव वाले उनकी गम्भीरता से आतंकित होकर उनसे गुहार लगाते हों -जोगी रा सारा रा रा। मतलब जोगी जी शरारत करिये।
बताने वाले बताते हैं कि जोगी रा सारा रा रा में साम्प्रदायिक सद्भाव की छटा दर्शनीय है। जोगी का संबंध हिन्दू और हिन्दी है शरारा का जुड़ाव मुस्लिम मने उर्दू से है। दोनों को मिलाकर जो बना जोगी रा सारा रा रा उससे हिन्दुस्तानी मेलजोल की संस्कृति का झण्डा फ़हराने लगा।
जो हो मेरी समझ में जोगी रा सारा रा रा का मतलब विसंगति से है। गम्भीर रहने वाले जोगी से हंसी मजाक करना भी एक विसंगति ही है।
हमारे मोहल्ले में एक बुजुर्गवार रहते हैं। झाडनुमा दाढी , ऊटपटांग बतकही और निठल्ला घूमते रहने के बावजूद वे दीगर बाबाओं जितने प्रसिद्ध नहीं हुये तो सिर्फ़ इसलिये कि मोहल्ले की गलियां टेलीविजन की ओबी वैन आने लायक चौड़ी नहीं थी और बुजुर्गवार इस बात के सख्त खिलाफ़ थे कि अपनी गली छोड़कर कहीं बाहर जायें।
बुजुर्ग हो जाने के चलते मोहल्ले भर के लोग उनको बाबा जी कहते कोई जोगी जी। जब टेलीविजन पर किसी बाबा को महिलाओं को दस बच्चे की पैदा करने की सलाह देते सुनते तो देश की शिक्षा व्यवस्था पर सर धुनते कहते इन जाहिलों को दस के आगे की गिनती भी नहीं आती है। दस बच्चे पैदा करने के बाद खाली बैठकर क्या करेगी महिलायें।
आज ही मिल गये जोगी जी। किसी बच्चे की भूगोल की किताब मिल गयी तो नक्शे का एक हिस्सा नोचकर बोले -पाकिस्तान को इस तरह उड़ा देना चाहिये दुनिया से। नक्शे से पाकिस्तान को उड़ाने के बाद किताब हमारी तरफ़ फ़ेंक दी। हमने देखा - नक्शे से पूरा कनाडा और चवन्नी भर अमेरिका नुचा हुआ था।
हिन्दुस्तान को सलामत देखकर हमने सुकून मनाया। लेकिन डर भी लगा कि कब तक बचेगा हिन्दुस्तान इनके गुस्से से।
हमने जोगी जी का गुस्सा टालने के लिये टेलीविजन पर न्यूज चालू कर दी। नेता जी भाषण दे रहे हैं। बिजली, पानी, लैपटाप, साड़ी ब्लाउज, मकान, रोजगार देने का वादा करते हैं। जनता सुन रही है। जनता जानती है नेता जी मजाक के मूड में हैं। वह बोलती है जोगी रा सारा रारा। नेता जी को सुनाई पड़ता है- ’जिन्दाबाद , नेता जी जिन्दाबाद।’ वे अविभूत हो जाते हैं। फ़िर नये वादे करते हैं। चुनाव में वोट देने के लिये कहते हैं। जनता कहती है -जोगी रा सारा रा रा।

https://www.facebook.com/anup.shukla.14/posts/10210638998024595

Post Comment

Post Comment

1 comment:

Google Analytics Alternative