Thursday, January 09, 2014

चाय बिना मजा नहीं आता चमकने में

सूरज से बात हो रही थी। हमने कहा -अरे भाई! थोड़ा कानपुर, वानपुर भी चले जाया करो। घर से पता चला कि वहां बहुत सर्दी पड़ रही है। वो बोला -अच्छा भाई जाते हैं! लेकिन जरा चाय-वाय तो पिलाओ। सुबह-सुबह चाय बिना मजा नहीं आता चमकने में।

Post Comment

Post Comment

No comments:

Post a Comment

Google Analytics Alternative