Tuesday, September 27, 2016

कहो तो आज पाकिस्तान को निपटा आएं

कहो तो आज पाकिस्तान को निपटा आएं,
लेते जाएँ कुंजी सबक ठीक से सिखा आएं।

जाओ अगर तो साथ में झोला लेते जाना,
सब्जी मिल रही हो बढ़िया तो लेते आना।

सामान जो भी लेना वो मोलभाव करके लेना,
निपटाने के चक्कर में, कमाई मत गवां देना।

चाय पीना वहाँ तो ग्लास सामने धुलवाना,
चीनी जरा कम और पत्ती कड़क डलवाना।

चलना सड़क पर आँख खोलकर सावधानी से,
आती-जातियों से अनजाने में भिड़ मत जाना।


मिले जो कहीं भीड़ तो वहीं पकड़ कर माईक,
'कटटा कानपुरी' के कलाम जबरियन झेला आना।
-कट्टा कानपुरी

Post Comment

Post Comment

No comments:

Post a Comment

Google Analytics Alternative