Wednesday, January 20, 2016

अग्वाद का किला , कुछ फोटुएं



आज शाम को अग्वाद का किला देखने गए। वहां खींची गयी कुछ अपनी फोटुएं। फोटो खिंचवैया -Rajeev Kumar


चार सौ साल पुराने किले की दीवार के साथ


कहने को भले फ़ोटो हमारा खींचा जा रहा हो लेकिन फ़ोटोग्राफ़र का ध्यान कहीं और है ।  


फ़ोटो खिंचाते हुये ध्यान आया कि मुस्कराने स फ़ोटो अच्छा आता है।


फ़ोटो खींचने में कोई पैसा तो पड़ता नहीं इसलिये क्या चिंता लिया जाये एक और स्नैप !


एक पोज यह भी देखिये जरा। बताइये कैसा है।



एक फ़ोटो खींचने से ही बच्चे का गुस्सा शांत नहीं हुआ। उसने कहा- ’अंकल , एक और लेते हैं फ़ोटो।’ साथ के बच्चे-बच्चियां हंसते हुये हमारी फ़ोटो खींची जाते देख रहे थे।

हमारे साथ Rajeev Kumar राजीव ने वहां घूम रहे बच्चों के ग्रुप फ़ोटो खींचा जब बच्चे कह रहे थे कि वे फ़ोटो खिंचवाने के लिये किसी खूबसूरत लड़की को खोज रहे थे। बच्चों ने राजीव द्वारा फ़ोटो खींचने के अपराध की सजा हमारे फ़ोटो खींचकर दी।
https://www.facebook.com/anup.shukla.14/posts/10207165827877512




Post Comment

Post Comment

No comments:

Post a Comment

Google Analytics Alternative