Saturday, May 16, 2015

पोशाक तो बस एक बहाना है जी

पोशाक तो बस एक बहाना है जी
मकसद औकात बताना है जी ।

सर नीचे करके बस ’जी’,’हां’ बोलो,
आंख से आंख नहीं मिलाना है जी।

ईमानदार हो, काबिल हो ठीक है ,
पर हम बॉस ही हैं, बताना है जी।

-कट्टा कानपुरी

Post Comment

Post Comment

No comments:

Post a Comment

Google Analytics Alternative