Wednesday, June 11, 2014

गर्मी तेज थी तो पुलिया पर सुस्ताने लगे



कल दोपहर ये भाई मिले पुलिया पर। पास की राबर्टसन लेक पर मछली पकड़ने जा रहे थे। गर्मी तेज थी तो पुलिया पर सुस्ताने लगे। बोले चार बजे के बाद जायेंगे जब धूप कुछ कम हो जायेगी। दो तीन किलो मछली का जुगाड़ हो जाता है। बेच लेते हैं। वैसे राजगीर का काम करते हैं लेकिन आजकल काम पर नहीं जाते क्योंकि सब बाहर धूप के काम मिलते हैं।

Post Comment

Post Comment

No comments:

Post a Comment

Google Analytics Alternative