Sunday, June 22, 2014

पुलिया पर दूधवाले भैया




सबेरे ही पुलिया पर इन दूधवाले भैया से भी मुलाक़ात हुई। फल ले रहे थे। एक फल कच्चा था तो किसी ने बोला -"कच्चा फल मती लै जाओ।इसै लै जाओगे तो घर में लड़ाई होगी।"

इस पर भाईजी बोले-"कल तक फल पक जाएगा। लड़ाई खतम हो जायेगी।"

बतियाते हुए बताया कि रोज चार सौ लीटर दूध बेचते हैं।एक बड़ा पीपा चालीस लीटर का। सुबह शाम दोनों बखत चक्कर लगाते हैं -दूध लेने और बेचने के लिए।





Vipul Sinha Lagta hai Yudhishthir ne Hastinapur mein kacche jaamun khareed liye rahe. Tabbai to.
Krishn Adhar अधिक माइलेज वाली मोटर वाइक्स ने दूध वालों को वड़ी राहत दी है ।

Post Comment

Post Comment

No comments:

Post a Comment

Google Analytics Alternative